Griha Pravesh Muhurat : यहाँ जानिए वर्ष 2024 में गृह प्रवेश करने का शुभ मुहूर्त

post

हर व्यक्ति का सपना होता है कि उसका अपना घर हो। अपने इसी सपनों के घर को बनाने के लिए वह पूरी मेहनत करता है। फिर कई जद्दोजहद के बाद उसका यह सपना पूरा होता है। फिर आती है बारी गृह प्रवेश (Griha Pravesh) की। अब शायद आपके मन में यह सवाल आ रहा होगा कि, किसी नए घर में रहने से पहले गृह प्रवेश क्यों कराना चाहिए? ऐसा इसलिए कि इतनी मेहनत के बाद जब आप अपने सपनों का घर बना लेते हैं, तो सुख-समृद्धि के बिना सब व्यर्थ हो सकता है। गृह प्रवेश (Griha Pravesh) कराने से घर में सुख-समृद्धि का वास होता है और शांति रहती है तथा मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है।

गृह प्रवेश (Griha Pravesh) के महत्व को समझते हुए हिंदू धर्म में इसे लेकर कुछ नियम बताये गए हैं। इसमें से एक नियम है, गृह प्रवेश की पूजा कराने का समय। गृह प्रवेश शुभ मुहूर्त में ही कराया जाता है। तो आइए जानते हैं कि साल 2024 में गृह प्रवेश के लिए शुभ मुहूर्त (Griha Pravesh Muhurat 2024) कौन-कौन से हैं? 

गृह प्रवेश मुहूर्त - 2024 में नए घर में शिफ्ट होने के लिए कौन सा दिन शुभ है?

ज्योतिष विशेषज्ञों तथा घर के लिए वास्तु शास्त्र के अनुसार, जिस दिन सकारात्मक ऊर्जा सबसे मजबूत होती है, उस दिन आपको नए घर में रखना शुरु करना चाहिए। इसलिए, 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त (Griha Pravesh muhurat) तिथि जानने के लिए अनुकूल तिथि और नक्षत्र का पता लगाना महत्वपूर्ण है। 2024 में शुभ गृह प्रवेश मुहूर्त तिथि और समय का उल्लेख नीचे किया गया है; हालाँकि, यदि आप किसी दूसरी तिथि को गृह प्रवेश करना चाहते हैं, तो आपको गृह प्रवेश से पहले किसी ज्योतिषी या पुजारी से परामर्श करना चाहिए।

कुछ ज्योतिषों के अनुसार, खरमास, चतुर्मास, श्राद्ध आदि के महीनों में गृह प्रवेश कराना अशुभ माना जाता है। इसलिए, इससे पहले कि आप गृह प्रवेश का समय तय करें, नीचे बताये गए साल 2024 में गृह प्रवेश के लिए शुभ मुहूर्त (Griha Pravesh Muhurat 2024) देखें और अपने पंडितजी या ज्योतिषी से भी सलाह लें।

2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त (Griha Pravesh Muhurat in 2024) - माहवार

गृह प्रवेश तिथियां

दिन

मुहूर्त समय

8 दिसंबर, 2023 - 9 दिसंबर, 2023

शुक्रवार

प्रातः 8:54 से प्रातः 6:31 तक

15 दिसंबर 2023

शुक्रवार

सुबह 8:10 बजे से रात 10:30 बजे तक

21 दिसंबर 2023

गुरुवार

सुबह 9:37 बजे से रात 9:09 बजे तक

3 जनवरी 2024

बुधवार

प्रातः 07:14 बजे से दोपहर 02:46 बजे तक

12 फ़रवरी 2024

सोमवार

दोपहर 02:56 बजे से शाम 05:44 बजे तक

14 फ़रवरी 2024

बुधवार

प्रातः 07:01 बजे से प्रातः 10:43 बजे तक

19 फ़रवरी 2024

सोमवार

प्रातः 06:57 बजे से प्रातः 10:33 बजे तक

26 फ़रवरी 2024

सोमवार

प्रातः 06:50 से प्रातः 04:31 तक, 27 फरवरी

28 फ़रवरी 2024

बुधवार

प्रातः 04:18 से प्रातः 06:47 तक, 29 फरवरी

29 फरवरी 2024

गुरुवार

प्रातः 06:47 बजे से प्रातः 10:22 बजे तक

2 मार्च 2024

शनिवार

02:42 अपराह्न से 06:44 पूर्वाह्न, 03 मार्च

6 मार्च 2024

बुधवार

02:52 अपराह्न से 04:13 पूर्वाह्न, 07 मार्च

11 मार्च 2024

सोमवार

12 मार्च प्रातः 10:44 बजे से प्रातः 06:34 बजे तक

15 मार्च 2024

शुक्रवार

16 मार्च रात्रि 10:09 बजे से प्रातः 06:29 बजे तक

16 मार्च 2024

शनिवार

प्रातः 06:29 बजे से रात्रि 09:38 बजे तक

27 मार्च 2024

बुधवार

प्रातः 06:17 बजे से सायं 04:16 बजे तक

29 मार्च 2024

शुक्रवार

30 मार्च रात्रि 08:36 बजे से प्रातः 06:13 बजे तक

30 मार्च 2024

शनिवार

प्रातः 06:13 बजे से रात्रि 09:13 बजे तक

3 अप्रैल 2024

बुधवार

सायं 06:29 बजे से रात्रि 09:47 बजे तक

2 नवंबर 2024

शनिवार

05:58 पूर्वाह्न से 06:40 पूर्वाह्न तक, 3 नवंबर

4 नवंबर 2024

सोमवार

06:40 पूर्वाह्न 08:04 पूर्वाह्न

7 नवंबर 2024

गुरुवार

12:34 पूर्वाह्न 06:42 पूर्वाह्न, 8 नवंबर

8 नवंबर 2024

शुक्रवार

प्रातः 06:42 बजे से दोपहर 12:03 बजे तक

13 नवंबर 2024

बुधवार

01:01 अपराह्न से 03:11 पूर्वाह्न, 14 नवंबर

16 नवंबर 2024

शनिवार

07:28 अपराह्न से 06:47 पूर्वाह्न, 17 नवंबर

18 नवंबर 2024

सोमवार

प्रातः 06:48 बजे से अपराह्न 03:49 बजे तक

25 नवंबर 2024

सोमवार

06:52 पूर्वाह्न से 01:24 पूर्वाह्न, 26 नवंबर

5 दिसंबर 2024

गुरुवार

दोपहर 12:49 बजे से शाम 05:26 बजे तक

11 दिसंबर 2024

बुधवार

प्रातः 07:02 बजे से प्रातः 11:48 बजे तक

21 दिसंबर 2024

शनिवार

06:14 पूर्वाह्न से 07:08 पूर्वाह्न, 22 दिसंबर

25 दिसंबर 2024

बुधवार

प्रातः 07:09 बजे से अपराह्न 03:22 बजे तक


आप ऊपर बतायी गईं तारीखों पर अपने नए घर की गृह प्रवेश पूजा करा सकते हैं। ऊपर बतायी गईं तारीखों के साथ, हमने कुछ और शुभ तिथियां भी बतायी हैं जिन्हें व्यक्ति की राशि तथा नक्षत्रों के आधार पर गृह प्रवेश हेतु चुना जा सकता है।

क्या हम मकर संक्रांति पर गृह प्रवेश पूजा कर सकते हैं?

Makar Sankranti (मकर संक्रांति) सर्दियों के महीनों के खत्म होने और वसंत की शुरुआत का प्रतीक है। मकर संक्रांति हर साल 14 जनवरी को मनाई जाती है और रंग-बिरंगी सजावट, मेलों, पतंगबाजी, नृत्य, अलाव एवं दावतों जैसे सामाजिक उत्सवों के साथ मनाया जाता है। कुछ जगहों पर ग्रामीण बच्चे घर-घर जाते हैं, गाते हैं और अच्छी दावतों का आनंद लेते हैं। हिंदू मान्यताओं के अनुसार, मकर संक्रांति के दिन त्योहार पर कोई भी शुभ कार्य किया जा सकता है। ऐसा कहा जाता है कि इस दिन से सूर्य दक्षिणायन से निकलकर उत्तरायण में प्रवेश करना प्रारंभ कर देता है। ऐसा माना जाता है कि यह दिन विवाह और गृह प्रवेश (Griha Pravesh puja) जैसे समारोहों के लिए शुभ मुहूर्त होता है। इस दिन देवता 6 महीने की नींद के बाद जागते हैं। और सूर्य का मकर राशि में प्रवेश एक नए जीवन की शुरुआत का संकेत देता है। इसलिए प्राचीन काल से ही इस दिन को शुभ माना गया है। और इस दिन से कोई भी शुभ कार्य शुरू करना हमारे ऋषि-मुनियों के अनुसार शुभ रहता है। 

हालांकि हमारा सुझाव है कि आप अपने नए घर में प्रवेश करने से पहले अपने ज्योतिषी या पंडित से गृह प्रवेश मुहूर्त (Griha Pravesh Muhurat 2024) के बारे में पता कर लें।  

2024 में गृह प्रवेश के लिए शुभ मुहूर्त (Griha Pravesh Muhurat)  

अलग-अलग कैलेंडर के अनुसार गृह प्रवेश का शुभ मुहूर्त भी अलग-अलग हो सकता है। उदाहरण के लिए तेलुगु पंचांग के अनुसार गृहप्रवेशम मुहूर्तम (Gruhapravesam Muhurtham) की हिंदू पंचांग की तारीखें थोड़ी अलग हैं। ऐसे ही गुजराती और बंगाली गृह प्रवेश (Bengali Griha Pravesh) तिथियां हिंदू कैलेंडर से अलग हो सकती हैं। ध्यान दें कि गृह प्रवेश के मुहूर्त तिथियां और समय स्थान पर आधारित होते हैं और ये आपके स्थान पर सूर्योदय व सूर्यास्त के समय के आधार पर भिन्न हो सकते हैं। इसलिए, गृह प्रवेश का समय तय करने से पहले, अपने स्थानीय पुजारी से सलाह ले लेना चाहिए।

गृह प्रवेश पूजा कराने से नए घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है। वर्ष 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त या गृह प्रवेश पूजा का सर्वोत्तम समय नीचे दिया गया है। आपके लिए अपने नए घर में शिफ्ट होने के लिए ये दिन शुभ हैं - चाहे वह आपका अपना घर हो या किराए का।

दिसंबर 2023 में गृह प्रवेश मुहूर्त 

दिसंबर के महीने में 2023 में गृह प्रवेश मुहूर्त करने के लिए 3 शुभ तिथियां हैं। 

गृह प्रवेश तिथियाँ

दिन

नक्षत्र

तिथि

मुहूर्त का समय

08 दिसंबर 2023

शुक्रवार

चित्रा

एकादशी

08:54 पूर्वाह्न - 06:31 पूर्वाह्न (9 दिसंबर)

15 दिसंबर 2023

शुक्रवार

उत्तरा आषाढ़:

तृतीया

08:10 पूर्वाह्न - 10:30 अपराह्न

21 दिसंबर 2023

गुरुवार

रेवती

दशमी

09:37 पूर्वाह्न - 10:09 अपराह्न

जनवरी 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त  

नए साल की शुरूआत नई आशाओं और सपनों के साथ होती है, इसलिए आप अपने नए घर में रहना शुरु कर साल की शुरुआत कर सकते हैं। जनवरी 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त (Griha Pravesh Muhurat) के लिए सिर्फ 1 दिन शुभ है।

गृह प्रवेश तिथि

दिन

नक्षत्र

तिथि

मुहूर्त का समय

3 जनवरी 2024

बुधवार

उत्तरा फाल्गुनी

सप्तमी

प्रातः 07:14 से दोपहर 02:46 तक

फरवरी 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त

फरवरी 2024 में गृह प्रवेश के लिए 6 शुभ मुहूर्त तिथियां हैं।

फागुन का महीना आशा की नई किरण लाता है, इसलिए इसे अपने गृह प्रवेश (Griha Pravesh) के लिए अच्छा माना जाता है। फरवरी का महीना पूजा करने और अपने सपनों के घर में रहना शुरु करने के लिए शुभ है। हालाँकि, किसी कोई तिथि तय करने से पहले, हम आपको सलाह देते हैं कि किसी पुजारी से सलाह लें।

गृह प्रवेश तिथियां

दिन

नक्षत्र

तिथि

मुहूर्त का समय

12 फरवरी 2024

सोमवार

उत्तर भाद्रपद

तृतीया

02:56 अपराह्न से 05:44 अपराह्न तक

14 फरवरी 2024

बुधवार

रेवती

पंचमी

07:01 पूर्वाह्न से 10:43 पूर्वाह्न तक

19 फरवरी 2024

सोमवार

मृगशीर्ष

दशमी, एकादशी

प्रातः 06:57 से 10:33 पूर्वाह्न तक

26 फरवरी 2024

सोमवार

उत्तरा फाल्गुनी

द्वितीया, तृतीया

06:50 पूर्वाह्न से 04:31 पूर्वाह्न, 27 फरवरी

28 फरवरी 2024

बुधवार

चित्रा

पंचमी

04:18 पूर्वाह्न से 06:47 पूर्वाह्न, 29 फरवरी

29 फरवरी 2024

गुरुवार

चित्रा

पंचमी

प्रातः 06:47 से 10:22 पूर्वाह्न तक

मार्च 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त

मार्च गृह प्रवेश के लिए एक शुभ महीना है। मार्च 2024 में ऐसी 8 तारीखें हैं जब आप अपने घर की गृह प्रवेश पूजा करा सकते हैं। हमारा सुझाव है कि आप किसी पुजारी या ज्योतिषी से सलाह लें और महीने के दौरान गृह प्रवेश मुहूर्त करने का सही समय जानें।

गृह प्रवेश तिथियां

दिन

नक्षत्र

तिथि

मुहूर्त का समय

2 मार्च

शनिवार

अनुराधा

सप्तमी

02:42 अपराह्न से 06:44 पूर्वाह्न, 03 मार्च

6 मार्च

बुधवार

उत्तरा आषाढ़

एकादशी

02:52 अपराह्न से 04:13 पूर्वाह्न, 07 मार्च

11 मार्च

सोमवार

उत्तर भाद्रपद, रेवती

द्वितीय

10:44 पूर्वाह्न से 06:34 पूर्वाह्न, 12 मार्च

15 मार्च

शुक्रवार

रोहिणी

सप्तमी

10:09 अपराह्न से 06:29 पूर्वाह्न, 16 मार्च

16 मार्च

शनिवार

रोहिणी, मृगशीर्ष

सप्तमी

प्रातः 06:29 से रात्रि 09:38 तक

27 वें मार्च

बुधवार

चित्रा

द्वितीय

प्रातः 06:17 से सायं 04:16 तक

29 मार्च

शुक्रवार

अनुराधा

पंचमी

08:36 अपराह्न से 06:13 पूर्वाह्न, 30 मार्च

30 मार्च

शनिवार

अनुराधा

पंचमी

प्रातः 06:13 से रात्रि 09:13 तक

अप्रैल 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त 

अप्रैल 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त के लिए सिर्फ 1 शुभ दिन है।

गृह प्रवेश तिथि

दिन

नक्षत्र

तिथि

मुहूर्त का समय

3 अप्रैल 2024

बुधवार

उत्तरा आषाढ़

दशमी

06:29 अपराह्न से 09:47 अपराह्न तक


मई 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त

मई 2024 के महीने में कोई गृह प्रवेश मुहूर्त (Griha Pravesh Muhurat) उपलब्ध नहीं है।

जून 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त 

जून 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त (Griha Pravesh Muhurat) के लिए कोई शुभ तिथि नहीं है।

जुलाई 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त 

जुलाई 2024 के महीने में कोई गृह प्रवेश मुहूर्त (Griha Pravesh Muhurat) उपलब्ध नहीं है। 

अगस्त 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त

अगस्त 2024 के महीने में कोई गृह प्रवेश मुहूर्त (Griha Pravesh Muhurat) उपलब्ध नहीं है। 

सितंबर 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त

सितंबर 2024 के महीने में कोई गृह प्रवेश मुहूर्त (Griha Pravesh Muhurat) उपलब्ध नहीं है। 

अक्टूबर 2024 में गृह प्रवेश मुहूर्त 

अक्टूबर 2024 के महीने में कोई गृह प्रवेश मुहूर्त (Griha Pravesh Muhurat) उपलब्ध नहीं है। 

गृह प्रवेश मुहूर्त 2024 की गणना कैसे करें?

Griha Pravesh Muhurat की गणना करना आसान नहीं है। वातु विशेषज्ञ और ज्योतिषी सही गृह प्रवेश मुहूर्त का पता लगाने के लिए कई बातों पर विचार करते हैं। वे नक्षत्र, लग्न, 9 ग्रहों की स्थिति, तिथियां, अधिक मास या महीने सहित कई कारकों पर विचार करते हैं। इन सभी कारकों पर विचार करने के बाद गृह प्रवेश मुहूर्त का सही समय चुना जाता है। और सही मुहूर्त से घर के मालिक को समृद्धि और अच्छा स्वास्थ्य मिलता है।

गृह प्रवेश मुहूर्त के लिए शुभ समय की गणना पंचांग शुद्धि करने के बाद की जाती है, इसके बाद गृह प्रवेश, हवन और शांति पूजा के लिए सही समय तय किया जाता है। पंडित या ज्योतिषियों के अनुसार शुक्र तारा अस्त और गुरु तारा के समय नए घर में प्रवेश करने से बचना चाहिए, क्योंकि उस समय शुक्र और बृहस्पति अस्त होते हैं। गृह प्रवेश 2024 के लिए शुभ मुहूर्त तब माना जाता है जब वे न्यूनतम चार घंटे तक रहते हैं और सूर्योदय से सूर्योदय के समय तक की गणना की जाती है।

गृह प्रवेश पूजा के प्रकार

हिंदू परंपराओं के अनुसार, गृह प्रवेश पूजा के निम्नलिखित प्रकार होते हैं: 

1. द्वांधव (Dwandhav): यह गृह प्रवेश पूजा तब करनी चाहिए जब आप किसी प्राकृतिक आपदा के कारण अपना घर छोड़ने के कई वर्षों के बाद वापस रहने आए हों।

2. सपूर्व (Sapoorva): सपूर्व गृह प्रवेश पूजा तब करायी जाती है जब आप अपने घर में बहुत लंबे समय के बाद फिर से रहने आते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आप कई वर्षों से आपके होम टॉउन से दूर कहीं बाहर काम कर रहे थे और इस दौरान आपके घर में कोई नहीं रहता था, तो सपूर्व गृह प्रवेश पूजा कराने की सलाह दी जाती है। पूजा करने से पहले अपने घर की अच्छी तरह से साफ-सफाई कर लें।

3. अपूर्वा (Apoorva): अपूर्व गृह प्रवेश पूजा तब की जानी चाहिए जब आपने कोई नया घर खरीदा हो।

गृह प्रवेश के लिए कौन से नक्षत्र अच्छे हैं?

गृह प्रवेश के लिए सर्वश्रेष्ठ माने जाने वाले नक्षत्र हैं:

1. उत्तर भाद्रपद

2. उत्तर फाल्गुनी

3. उत्तराषाढ़

4. रोहिणी

5. मार्गशीरा

6. चित्रा

7. अनुराधा नक्षत्र

गृह प्रवेश पूजा कराने से संबंधी कुछ सुझाव 

गृह प्रवेश (Griha Pravesh) पूजा अपने सभी प्रियजनों को आमंत्रित करने और उन्हें अपना नया घर दिखाने का अवसर होती हैं। यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं जिससे आपको बिना किसी परेशानी के अपनी गृह प्रवेश पूजा की तैयारी करने में मदद मिलेगी।

1. निर्माण कार्य पूरा करें: निर्माण कार्य पूरा करने के बाद ही गृह प्रवेश पूजा करें। जब घर तैयार हो जाए तो ही आपको घर में प्रवेश करना चाहिए और निर्माण कार्य में फिटिंग, फर्नीचर, लकड़ी का काम, पेंट आदि शामिल हैं।

2. कोई शुभ तिथि चुनें: आपको अपनी गृह प्रवेश पूजा किसी शुभ तिथि पर करनी चाहिए। हालाँकि त्योहारों के मौसम में कई शुभ तिथियां के साथ आती हैं, वैशाख, माघ, ज्येष्ठ और फाल्गुन के महीनों को गृह प्रवेश करना सबसे अच्छा माना जाता है। वहीं भाद्रपद, पौष, आषाढ़, श्रवण और आश्विन के महीने घर में प्रवेश अच्छा नहीं माना जाता है।

3. वास्तु देख लें: आपका घर वास्तु के अनुरूप होना चाहिए। यह विशेष रूप से घर के मुख्य द्वार और पूजा घर पर लागू होता है।

4. नकारात्मक ऊर्जा को खत्म करें: वास्तु के अनुसार, साफ-सफाई वाली जगह पर सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है। इसलिए, गृह प्रवेश पूजा शुरू होने से पहले गंदगी को साफ करें और खराब हो चुके सामान को हटा दें। अपने पूरे घर को शुद्ध करें और नकारात्मक ऊर्जा को हटाएं।

5. दिशा पर ध्यान दें: आपको न केवल ऊपर बताए गए 2024 में गृह प्रवेश (Griha Pravesh puja in 2024) के लिए शुभ दिन पर पूजा करनी चाहिए बल्कि मूर्तियों को अपने घर की पूर्व दिशा में रखना भी सुनिश्चित करना चाहिए।

6. अपने घर को सजाएं: गृह प्रवेश के लिए आपको अपना घर सजाना चाहिए। विशेषतः मुख्य द्वार को, क्योंकि इसे सिंह द्वार कहा जाता है और इसे वास्तु पुरुष का चेहरा माना जाता है। घर के मुख्य द्वार को आम के पत्तों और फूलों से सजाएं। मुख्य द्वार के दोनों सिरों पर स्वस्तिक जैसा आध्यात्मिक प्रतीक भी लगाना चाहिए।

7. हवन कुंड की उचित व्यवस्था करें : अपने घर की आभा को शुद्ध करने हेतु गृह प्रवेश के दिन हवन संस्कार करना आवश्यक है। हवन के समय जिन जड़ी-बूटियों का उपयोग किया जाता है, उनसे धुआं उत्पन्न होता है जो परिवेश को शुद्ध करने और सकारात्मक ऊर्जा को आकर्षित करने में मदद करती हैं।

8. अपने निकट और प्रियजनों को आमंत्रित करें: अपने सभी करीबी रिश्तेदारों और दोस्तों को या तो डिजिटल तरीके से या कॉल करके आमंत्रित करें। गृह प्रवेश पूजा में आपको कम से कम लोगों को बुलाना चाहिए क्योंकि बहुत से लोगों को आमंत्रित करने से नकारात्मक ऊर्जा आ सकती है।

गृह प्रवेश पर सजावट (Griha Pravesh Decoration Ideas)

गृह प्रवेश मुहूर्त के लिए सजाएं प्रवेश द्वार: गृह प्रवेश मुहूर्त के दिन अपने घर के प्रवेश द्वार को ताजे फूलों से सजाना शुभ माना जाता है। आप गेंदे के फूल और आम के पेड़ के पत्तों का तोरण लटका सकती हैं।

गृह प्रवेश मुहूर्त के लिए बनाएं रंगोली: रंगोली को समृद्धि एवं धन को आकर्षित करने वाला माना जाता है। इसलिए, गृह प्रवेश मुहूर्त के दिन प्रवेश द्वार पर कोई अच्छी रंगोली बना सकती हैं।

गृह प्रवेश पूजा पर लगाएं लाइट्स: किसी भी अवसर पर जितना फूल जरूरी है, रोशनी भी उतनी ही जरूरी है। गृह प्रवेश पूजा मुहूर्त के लिए घर को रोशन करने के लिए फेयरी लाइट, एलईडी लाइट, मोमबत्तियां, लैंप भी लटका सकती हैं।

अपने मंदिर को सजाएं: आपका घर का मंदिर कितना भी छोटा या बड़ा क्यों न हो, गृह प्रवेश मुहूर्त पूजा के शुभ अवसर पर आपको अपने घर के मंदिर को जरूर सजाना चाहिए। आप मंदिर को फूलों से सजा सकती हैं, माला बना सकती हैं और मूर्तियों को नए कपड़े पहना सकती हैं।

गृह प्रवेश पूजा (Griha Pravesh Ceremony) के संबंध में क्या करें और क्या न करें

गृह प्रवेश पूजा के लिए क्या करें और क्या न करें, इस प्रकार हैं:

  1. गृह प्रवेश पूजा हमेशा पूर्ण रूप से निर्मित घर में करनी चाहिए। पूजा से पहले दरवाजे, खिड़कियां और छत तैयार हो चुके होने चाहिए।
  2. मंगलवार के दिन गृह प्रवेश नहीं करना चाहिए। विशेष परिस्थितियों में रविवार और शनिवार को भी अशुभ माना जाता है।
  3. जल, नारियल और आम के आठ पत्तों से भरा कलश लेकर घर में प्रवेश करें।
  4. कलश घर के उत्तर पूर्व कोने में रखना चाहिए
  5. गृह प्रवेश के दिन ब्राह्मणों को भोजन कराना चाहिए।
  6. पहले दिन किचन में हरी पत्तेदार सब्जियां और गुड़ रखें।
  7. वास्तु पूजा से पहले केवल रसोई गैस/ओवन ही अंदर रखें।
  8. पूरे घर में आम के पत्तों से पवित्र जल का छिड़काव करके पूरे घर को शुद्ध करें।
  9. नए घर में प्रवेश करने से पहले नारियल तोड़ें। माना जाता है कि नारियल नई यात्रा में आने वाली हर बाधा को दूर करता है।
  10. अपना दाहिना पैर आगे करके घर में प्रवेश करें।
  11. पूजा की मूर्ति को घर के पूर्व दिशा में रखें।
  12. गृह प्रवेश पूजा के दिन दूध उबालें। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से घर में समृद्धि आती है।
  13. पूजा तभी करें जब आपके परिवार का हर सदस्य शारीरिक रूप से स्वस्थ और खुश हो। इस दिन नकारात्मक इच्छाओं को दूर रखना ही बेहतर होता है।
  14. गृह प्रवेश से पहले फर्नीचर को शिफ्ट न करें।
  15. गृह प्रवेश के 3 दिन तक घर को कभी भी खाली न रखें।
  16. परिवार में किसी की मृत्यु हो गई हो या घर में कोई महिला गर्भवती हो तो पूजा न करें।
  17. पूजा के दौरान बात न करें।

गृह प्रवेश पूजा पर वास्तु प्रभाव

पूजा की सजावट बहुत अधिक फैंसी नहीं होनी चाहिए, क्योंकि पूजा के दौरान घर में सकारात्मक शक्तियों को आकर्षित करने के लिए कुछ रस्में की जाती हैं। गृह प्रवेश पूजा के दौरान सजावट का ध्यान रखें तथा सकारात्मकता को आकर्षित करने के लिए कुछ खास उपाय करें।

1. घर के मुख्य द्वार को स्वस्तिक (हिंदुओं के पवित्र प्रतीक) और घर की प्रत्येक दहलीज को देवी लक्ष्मी के चरण से सजाएं।

2. ताजे आम के पत्तों और गेंदे के फूल की माला सकारात्मक मानी जाती है। प्रत्येक दरवाजे पर ऐसी माला लटकाएं।

3. गृह प्रवेश पूजा घर के उत्तर-पूर्वी कोने पर करें, जिसे घर का ईशान कोना कहा जाता है।

4. घर में नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए नवग्रह, गणेश और वास्तु पूजा द्वारा हवन करें।

5. पूजा समाप्त होने के बाद पुजारियों को अच्छा खाना परोसें।

6. गृह प्रवेश पूजा हमेशा साफ और बड़े कमरे में करें।

7. चावल के आटे से बने रंगोली के लिए चमकीले रंग चुनें, और फर्श को आकर्षक डिजाइनों से सजाएं

8. मुख्य द्वार पर कोई वस्तु न रखी हो या कोई बाधा न हो।

9. वास्तु नियमों का पालन किए बिना अपने कमरे को न सजाएं।

10. गृह प्रवेश पूजा दरवाजों और खिड़कियों को बंद करके न करें। पूरी जगह को यथासंभव हवादार रखने की कोशिश करें।

ऊपर बताये गए गृह प्रवेश 2024 (Griha Pravesh 2024) सुझाव से आप अपने नए घर को शुभ बना सकते हैं। ऊपर बतायी गईं बातों का ध्यान रखने से आपके घर से नकारात्मक ऊर्जा दूर रहेगी।

गृह प्रवेश मुहूर्त पर कुछ महत्वपूर्ण बातें

ऊपर बताये गए गृह प्रवेश 2024 (Griha Pravesh 2024) सुझाव से नए घर में अपने रहने की शुरुआत को शुभ बना सकते हैं। ऊपर बतायी गईं बातों का ध्यान रखने से आपके घर से नकारात्मक ऊर्जा दूर रहेगी। कुछ कारणों से आपको ऐसे महीने में गृह प्रवेश पूजा या गृह प्रवेश करना पड़ता है जिसमें कोई शुभ तिथि न हो; ऐसी स्थिति में किसी ज्योतिषी से सलाह लेनी चाहिए।

 Also Read: 40x60 मकान योजनाएं - लाभ और कैसे चुनें

Frequently Asked Questions

Ans 1. जी हाँ, शुक्रवार, शनिवार और बरसात के दिनों में नए घर में प्रवेश करना अशुभ माना जाता है क्योंकि सप्ताह के इस दिन प्रवेश करने से नए घर में परेशानियाँ आती हैं।

Ans 2. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, अभिजीत मुहूर्त किसी विशेष शहर में सूर्योदय और सूर्यास्त के आधार पर गणना किया जाने वाला मुहूर्त है। इस प्रकार, अभिजीत मुहूर्त अलग-अलग स्थानों पर अलग-अलग होता है। अभिजीत मुहूर्त वह समय है जब कोई कार्य शुरू किया जाता है। विवाह को छोड़कर अधिकांश शुभ कार्यों के लिए यह मुहूर्त उपयुक्त है।

Ans 3. जी हाँ, मकर संक्रांति को प्राचीन काल से ही वर्ष का शुभ समय माना जाता है। नए घर में प्रवेश करने के लिए यह सबसे अच्छा समय माना जाता है।

Ans 4. दिसंबर 2023 में गृह प्रवेश के लिए शुभ तारीखें 8 दिसंबर, 15 दिसंबर और 21 दिसंबर हैं।

Ans 5. जनवरी 2024 में गृह प्रवेश के लिए सिर्फ एक ही शुभ दिन है, यानी 3 जनवरी।

Ans 6. 2024 में जनवरी, फरवरी, मार्च, अप्रैल, नवंबर और दिसंबर में गृह प्रवेश की शुभ तिथियां हैं।

Ans 7. फरवरी 2024 में गृह प्रवेश पूजा के लिए उपलब्ध शुभ तिथियां 12, 14, 19, 26, 28 और 29 हैं।